कम्यूटेशन के इम्प्रूव करने की मेथड्स और DC जनरेटर का उपयोग

कम्यूटेशन के इम्प्रूव करने की मेथड्स [ DC जनरेटर ]


DC जनरेटर के कम्यूटेशन के इम्प्रूव करने की मेथड्स के तीन प्रकार बताये गए है 

जिसके बारे में हम बारी बारी से समझेंगे 


POLE COMMUTATION


[1] रेसिस्टेन्स कम्यूटेशन [ RESISTENCE COMMUTATION ]

[2] EMF कम्यूटेशन [ EMF COMMUTATION ]

[3] एक्वालाइज़िंग कनेक्शन [ EQUALIZING CONNECTION ]

 

[1] रेसिस्टेन्स कम्यूटेशन [ RESISTENCE COMMUTATION ]


रेसिस्टेन्स कम्यूटेशन में कम रेजिस्टेंस वाले कॉपर ब्रश के बजाय तुलनात्मक रूप से हाई रेसिस्टेन्स कार्बन ब्रश का उपयोग किया जाता है 

जिससे करंट ब्रश की तरफ फ्लो होने के बजाय कोइल की तरफ फ्लो  होता है 



[2] EMF कम्यूटेशन [ EMF COMMUTATION ]


EMF कम्यूटेशन में यदि आर्मेचर समाप्त हो गया हो तो उसका EMF COMMUTION खराब हो गया है जिसके कारण करंट तुरंत कम नहीं होता है इसका कारण यह भी है की वोल्टेज रिएक्शन होने के कारण शार्ट-सर्किट आर्मेचर में  INDUCTANCE कारण टकराकर प्रेरित किया जाता है 

जिससे INTER पोल के इंडक्शन के प्रभाव को रद्द कर दिया जाता है और इसके परिणाम स्वरुप इसमें लीनियर COMMUTATION  हो जाता है 


इस प्रतिक्रिया वोल्टेज को रद्द  करने के लिए , MAIN पोल के बीच दो छोटे छोटे दो पोल प्रदान  किये जाते है और इसी को अंतर पोल [ INTER पोल ] कहा जाता है 

यह घुमावदार आर्मेचर के साथ SERIES में जुड़ा होता है इसलिए यह आर्मेचर में करंट फ्लो होता है इसमें बहने वाले करंट फ्लो कारण इ एम् ऍफ़ [ EMF ] शार्ट सर्किटेड आर्मेचर कोइल में प्रेरित होता है 

जो प्रतिक्रिया वोल्टेज के रिएक्शन को रद्द करता है जिससे कम्यूटेशन लीनियर हो जाता है और स्पार्कल कम्यूटेशन प्राप्त होता है 

यदि जनरेटर के मामले में देखा जाये तो INTER POLE  पोलेरिटी के रोटेशन की दिशा में आगे का मुख्या ध्रुव है लेकिन मोटर के मामले में यहाँ पूरा उल्टा है जो FIG. 1 में बताया गया है 

जब आर्मेचर घूमता है तो S पोल INTER पोल के बाद आता है इसलिए यदि पोलेरिटी में अगर INTER पोल S पोल होगा 

MOTOR के लिए यह उल्टा होगा INTER पोल की ध्रुवता N होगा 


[3] एक्वालाइज़िंग कनेक्शन या Equalizing रिंग[ EQUALIZING CONNECTION /

RING  ]

Equalizing connection में  कई बार आर्मेचर के लैप वाउन्ड के parallel पाथ में सर्कुलेटेड Current के flow  में  उसमे से उत्पन्न होने वाला इ एम् ऍफ़ EMF parallel पाथ में unequal होते है 

यह आर्मेचर ब्रश में करंट का डिफरेंट भाग में डिस्ट्रीब्यूट करता है अर्थात करंट का असमान वितरण करता है इसमें से कुछ  तुलना में देखा जाये तो करंट की तुलना में करंट का फ्लो बढ़ता है 

ओवरलोड ब्रश के कारण करंट कम्यूटेशन के पीरियड के अंत में पूरी तरह से रिवर्स नहीं होता है और इसलिए इसके परिणाम स्वरुप कम्यूटेटर और ब्रश के बीच स्पार्किंग होती है 

इसे रोकने के लिए Equalizing connection या Equalizing रिंग का  उपयोग होता है  इसलिए बराबरी, सैद्धांतिक पॉइंट कंडक्टर जुड़ा होता है इसलिए ब्रश के माध्यम से गुजरने बजाय इस कंडक्टर के माध्यम से UNBALANCED करंट गुजरता है 

Equalizing connection का उपयोग उसमे बहने वाला करंट के सर्कुलेटेड को जीरो  करने लिए किया जाता है इस प्रकार Equalizing connection का उपयोग से लैप कनेक्टेड आर्मेचर में स्पार्किंग कम ,और कम्यूटेशन सुधार होता है 


DC जनरेटर के उपयोग 


DC जनरेटर का उपयोग यह पर उसके कंस्ट्रक्शन को ध्यान में रखकर बताया गया है
जिसमे उसके आर्मेचर और फील्ड वाइंडिंग के साथ और किस प्रकार के लोड पर उपयोगी है यह भी बताया गया

DC जनरेटर के पुरे कंस्ट्रक्शन के बारे में सिखने की पूरी कोशिश करेंगे 

NOTE :- MOST IMPORTANT TOPIC OF DC GNERATOR CONSTRUCTION 

यहां पर DC जनरेटर का उपयोग उसके प्रकार  आधार पर बताया गया है 

जिसमे 

[1] DC सीरीज जनरेटर 

[2] DC शंट जनरेटर 

[3] DC कंपाउंड जनरेटर 

[4] DC डिफरेंशियल कंपाउंड जनरेटर 


[1] DC सीरीज जनरेटर 

- DC सीरीज जनरेटर का उपयोग प्रकाश के लिए नहीं जाता है क्युकी इसका टर्मिनल वोल्टेज लोड के साथ परिवर्तन में बहुत अलग होता है 

- इसका उपयोग बस्टर के रूप में रेलवे में किया जाता है 


[2] DC शंट जनरेटर 

- DC शंट जनरेटर  उपयोग प्रकाश और बिजली के आपूर्ति लिए  किया जाता है 

- इसका उपयोग बैटरी चार्जिंग के लिए  किया  जाता है 

- क्युकी इसके टर्मिनल वोल्टेज को स्थिर रखा जाता है 


[3] DC कंपाउंड जनरेटर 

- DC कंपाउंड जनरेटर का उपयोग भार में बढ़ोतरी के साथ वोल्टेज में मामूली वृद्धि की विशेषता के आधार पर इसका उपयोग प्रकाश के आपूर्ति के लिए किया जाता है 

- निरंतर वोल्टेज ड्राइव  लिए DC कंपाउंड जनरेटर का उपयोग होता है 


[4] DC डिफरेंशियल कंपाउंड जनरेटर 

- DC डिफरेंशियल कंपाउंड जनरेटर में,टर्मिनल वोल्टेज लोड में वृद्धि के साथ तेजी से गिरता है ऐसी विशेषता वेल्डिंग में उपयोगी है 

- तो इस प्रकार के जनरेटर उपयोग वेल्डिंग के लिए किया जाता है 



Post a comment

0 Comments