मल्टीमीटर का उपयोग कैसे करे ?? [ HOW TO USE A MULTIMETER ???? ]

मल्टीमीटर

आज हम मल्टीमीटर के बारे में सीखेंगे की हम उसका उपयोग कैसे करे ??

मल्टीमीटर का उपयोग कहा करे और कैसे करे ??

मल्टीमीटर में कौन कौन  सी चीज़े मेज़रमेंट कर सकते है ?? आज हम उसके बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे
और आपको बताएंगे की मल्टीमीटर से क्या क्या चेक कर सकते है ??

हम आपको सिर्फ मल्टीमीटर की बेसिक चीज़ो के बारे में बताएंगे जो निचे दिए है 


मल्टीमीटर में 

[1] AC वोल्टेज , DC वोल्टेज  
[2] AC करंट , DC करंट  
[3] रेजिस्टेंस 
[4] कॉन्टिनुइटी टेस्ट
[5] ट्रांजिस्टर टेस्ट कनेक्शन 


MULTIMETER USE



से किसी भी सर्किट को चेक कर  सकते है 


मल्टीमीटर में हम निचे दिए सिलेक्शन स्विच को सेलेक्ट करे फिर मल्टीमीटर का उपयोग करे 


मल्टीमीटर में 

[1] मैंन  सिलेक्शन  स्विच  
[2] कॉमन कनेक्शन 
[3] करंट चेक कनेक्शन    
[4] स्टैण्डर्ड वॉल्ट , एम्पेयर ओह्म कनेक्शन 
[5] डिस्प्ले   

इसके अलावा और भी कई पैरामीटर होता है 


मल्टीमीटर में दो टाइप के प्रोब है जिसमे कोमोनली एक प्रोब लाल  दूसरा ब्लैक होता है जिसका उपयोग हम
मल्टीमीटर के उपयोग के टाइम सर्किट को या अन्य किसी पाथ को चेक करते समय करेंगे 


मल्टीमीटर में कॉन्टिनुइटी चेक कैसे करे ??


मल्टीमीटर में दो टाइप के प्रोब है जिसमे एक प्रोब लाल दूसरा ब्लैक होता है दोनों प्रोब को मल्टीमीटर में 
फिक्स करके अब मैन सिलेक्शन स्विच को कॉन्टिनुइटी पर सेट करे अब 2, 3 या 4 वायर हो अब उस वायर को सर्किट में बराबर कनेक्ट है या नहीं उसे चेक करने के लिए कॉन्टिनुइटी किया जाता है
 
कॉन्टिनुइटी का एक फायदा और यहां भी है की हम कॉन्टिनुइटी को चेक करते समय पावर ऑफ कंडीशन में 
होता है जिससे हम किसी भी केबल / वायर का कनेक्शन चेक करके सही वायर का पता कर सकते है 
जैसे की, 1- फेज सप्लाई में फेज और न्यूट्रल होता है तो हम ये चेक करेंगे की हमारा वायर सही ढ़ंग से लोड 
के साथ कनेक्ट है या नहीं क्या कंही कनेक्शन गलत तो नहीं है
 
क्युकी लोड में फेज के साथ फेज कनेक्टेड होना चाहिए और न्यूटल के साथ न्यूटल कनेक्टेड होना चाहिए 
इसी चीज़ का पता लगाने  लिए हम कॉन्टिनुइटी चेक करते है 


मल्टीमीटर में वोल्टेज चेक कैसे करे ??


मल्टीमीटर में DC वोल्टेज चेक कुछ इस तरह से करे
 
मल्टीमीटर में वोल्टेज पर सिलेक्शन स्विच सेलेक्ट करके की हम DC  वोल्टेज पर रखकर DC वोल्टेज चेक करेंगे और मल्टीमीटर में 2 वायर होते होते है जिसको हम वोल्टेज में चेक करते टाइम एक टेस्ट वायर वोल्टेज पर और दूसरा टेस्ट वायर कॉमन कनेक्शन पर सेलेक्ट करे 


VOLTAGE CHECK OF MULTIMETER




मल्टीमीटर में AC  वोल्टेज चेक कुछ इस तरह से करे
 

मल्टीमीटर में वोल्टेज पर सिलेक्शन स्विच सेलेक्ट करके की हम AC   वोल्टेज पर रखकर AC  वोल्टेज चेक
करेंगे और मल्टीमीटर में २ वायर होते होते है जिसको हम वोल्टेज में चेक करते टाइम एक टेस्ट वायर वोल्टेज 
पर और दूसरा टेस्ट वायर कॉमन कनेक्शन पर सेलेक्ट करे
 

हम AC  वोल्टेज पर रखकर AC  वोल्टेज चेक करेंगे लेकिन यदि हमे ३ फेज सप्लाई अथवा 1 फेज सप्लाई 
का वोल्टेज चेक करना हो तो  हम बिलकुल ठीक उसी तरह से वोल्टेज चेक करेंगे जैसे ऊपर बताया गया है 



मल्टीमीटर में करंट चेक कैसे करे ??


मल्टीमीटर में DC करंट चेक कुछ इस तरह से करे 


मल्टीमीटर में करंट पर सिलेक्शन स्विच सेलेक्ट करके की हम DC  करंट पर रखकर DC करेंट चेक करेंगे और मल्टीमीटर में 2 वायर होते होते है जिसको हम करंट में चेक करते टाइम एक टेस्ट वायर करंट पर और दूसरा टेस्ट वायर कॉमन कनेक्शन पर सेलेक्ट करे 


CURRENT CHECK FROM MULTIMETER




मल्टीमीटर में AC  करंट चेक कुछ इस तरह से करे
 

मल्टीमीटर में करंट पर सिलेक्शन स्विच सेलेक्ट करके की हम AC करंट पर रखकर AC करंट चेक करेंगे 
और मल्टीमीटर में 2 वायर होते होते है जिसको हम करंट में चेक करते टाइम एक टेस्ट वायर करंट पर और 
दूसरा टेस्ट वायर कॉमन कनेक्शन पर सेलेक्ट करे
 

हम AC   करंट पर रखकर AC करंट चेक करेंगे लेकिन यदि हमे  १ फेज सप्लाई  का करंट चेक करना हो तो हम बिलकुल ठीक उसी तरह से  चेक करेंगे जैसे ऊपर बताया गया है लेकिन हम इसमें ३ फेज सप्लाई का करंट चेक करना हो तो एक एक फेज का चेक करेंगे परन्तु इसमें मल्टीमीटर में कुछ रेटिंग अनुशार ही चेक करे 


मल्टीमीटर में  RESISTENANCE चेक कैसे करे ??



मल्टीमीटर में  RESISTANCE चेक कुछ इस तरह से करे 
मल्टीमीटर में  RESISTANCE  पर सिलेक्शन स्विच सेलेक्ट करके की हम वोल्टेज /  RESISTANCE  पर
रखकर  RESISTANCE  चेक करेंगे 


RESISTANCE CHECK FROM MULTIMETER



मल्टीमीटर में २ वायर होते होते है जिसको हम  RESISTANCE में चेक करते टाइम एक टेस्ट वायर वोल्टेज 
/ RESISTANCE   पर और दूसरा टेस्ट वायर कॉमन कनेक्शन पर सेलेक्ट करे मल्टीमीटर में वोल्टेज AC , DC और करंट AC , DC और रेजिस्टेंस चेक बताया गया  है 


यदि आपको बैटरी का वोल्टेज या कॉन्टिनुइटी चेक करना हो तो आप इस आकृति  देख सकते है यह आपके लिए बहोत हेल्प फुल रहेगा 

मल्टीमीटर का उपयोग करते समय रखी जानेवाली सावधानी 



हम मल्टीमीटर का उपयोग कैसे नहीं करेंगे जिससे कोई फाल्ट या शोक सर्किट हो 


[1]  मल्टीमीटर को यदि अपने DC सप्लाई पर रखकर अपने AC सप्लाई चेक किया तो मल्टीमीटर शोक होने का चांस  होता है इसलिए मल्टीमीटर सेलेक्ट किये गए DC सप्लाई से DC वोल्टेज ही चेक करे 


[2]  यदि अपने मल्टीमीटर को कॉन्टिनुइटी पर  रखकर अपने गलती से पावर ON  सप्लाई  प्रोब से चेक के लिए तो मल्टीमीटर  शोक हो सकता है 


[3]  यदि किसी सर्किट में वोल्टेज चेक किये तो जैसे की

 (A) AC सप्लाई में आपने फेज टू  फेज सप्लाई में मल्टीमीटर के प्रोब को रखकर चेक किया जाए तो मल्टीमीटर शॉक हो सकता है
 
(B) DC  सप्लाई में आपने  पॉजिटिव टू पॉजिटिव  सप्लाई में मल्टीमीटर के प्रोब को रखकर चेक किया जाए तो मल्टीमीटर शॉक हो सकता है 


NOTE :- मल्टीमीटर को हम सिर्फ ३-फेज सप्लाई तक ही उपयोग किया  जाता है जिसमे वोल्टेज 400V/415V/440V या 600V/690V तक ही चेक किया जा सकता है
 

हम मल्टीमीटर का उपयोग से 11000/11KV सप्लाई नहीं चेक कर सकते है 




Post a comment

0 Comments